पुरुष इन वजहों से हो जाते है बांझपन का शिकार

दुनिया का कौन सा पुरुष या महिला ऐसा या ऐसी है जो सन्तानप्राप्ति के सुख का आनंद नही प्राप्त करना चाहती लेकिन कभी कभी ऐसा होता है कि कुछ कारणवश उसकी ये मनोकामनाएं अधूरी रह जाती है जिसकी वजह से उसे बांझपन का रोगी करार दिया जाने लगता है।

पुरुष इन वजहों से हो जाते है बांझपन का शिकार
Source

प्रजनन क्षमता में कमी होना किसी की गलती नहीं होती। यह एक रोग है जो किसी को भी हो सकता है। दुनिया के दस फीसदी दंपतियों संतानोत्‍पत्ति में परेशानी होती है। जहां तक पुरुषों  की बात है, तो उनमें प्रजनन संबंधी सबसे सामान्‍य समस्‍या, चलायमान और सामान्‍य शुक्राणुओं के उत्‍पादन में कमी होना होती है। पिछले काफी समय से पुरुषों में बांझपन का विषय चर्चा में रहा है, आइये जानते है कि पुरुषों में इसके होने के क्या कारण होते है।

वैज्ञानिक रूप से अगर कहा जाय तो यह एक ऐसा अवस्था है जब चाह कर भी लंबे समय तक सन्तानोतपत्ति से महिला या पुरुष वंचित हो जायं। इसके बहुत से कारण होते है जिनमें स्त्री के शरीर का पूर्ण विकास न होने से लेकर मर्द की आंतरिक शक्ति और क्षमता भी निर्णायक भूमिका निभाती है।

बांझपन का कोई एक कारण नही होता बल्कि अगर ये कहा जाये कि एक पुरूष की पूरी जीवनशैली इसका निर्धारण करती है तो गलत न होगा। एक व्यक्ति के खान पान और रहन सहन का उसकी वैवाहिक और दांपत्य जिंदगी पर भी असर पड़ता है। अगर आप अधिक मात्रा में शराब और ड्रग्स का इस्तेमाल करते है तो आपको संभल जाने की जरूरत है क्योंकि शराब और ड्रग्स सबसे ज्यादा आपकी प्रजनन क्षमता पर असर डालती है।

बाझपन में सिगरेट भी एक निर्णायक भूमिका निभाता है और रेडिएशन भी इस रोग को बढाने में घातक सिद्ध होता है। तो अगर आप एक बेहतर जिंदगी गुजरने के ख्वाब अपने ज़हनों में सँजोये हुए है तो आपको सबसे पहले अपनी इन सभी आदतों का त्याग करना होगा वरना हो सकता है अगले बाझपन का शिकार आप ही हों।

NEXT पर क्लिक कर अगले पेज पर पढ़ें पुरुषों में बांझपन के मुख्य कारण 

Advertisement
loading...