भारत के टॉप-3 दलबदलू नेता जो सत्ता के हिसाब से बदल लेते हैं पार्टी

मौसम की तरह भारत की राजनीति में भी कब क्या बदल जाय किसी को नहीं पता होता

भारत की राजनीति में कब क्या हो जाय इस बारे में कोई कुछ भी नहीं कह सकता है. इस देश में रातोंरात सरकारें बन भी जाया करती हैं और गिर भी जाया करती हैं. भारतीय राजनीति के बारे में एक और कहावत मशहूर है कि, यहां पर कोई नेता किसी का ना ही स्थायी दुश्मन है और ना ही स्थायी दोस्त. हम यहां जिक्र कर रहे हैं उन नेताओं के बारे में जिन्हें पाला बदलने में महारत हासिल है.

राम विलास पासवान

भारत के टॉप-3 दलबदलू नेता जो सत्ता के हिसाब से बदल लेते हैं पार्टी
Source

राम विलास देश के उन नेताओं में से आते हैं जो मौसम के हिसाब से अपनी पार्टी बदल लेते हैं. यही कारण है कि, भारतीय राजनीति में उनको मौसम विज्ञानी के नाम से भी जाना जाता है. विचारधारा से उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता बस पार्टी सत्ता का हिस्सा होनी चाहिए. केंद्र में कांग्रेस की सरकार हो या फिर उसकी धुर विरोधी भाजपा की, पासवान को इससे कोई फर्क नहीं पड़ता उनका मंत्रीपद हर सरकार में बना रहता है.

चंद्रबाबू नायडू

भारत के टॉप-3 दलबदलू नेता जो सत्ता के हिसाब से बदल लेते हैं पार्टी
Source

कहा जाता है अगर रामविलास पासवान उत्तर भारत के मौसम विज्ञानी हैं तो चंद्रबाबू नायडू दक्षिण भारत के. चंद्रबाबू नायडू के विरोधी अक्सर इस बात को लेकर उनपर तंज भी कसा करते हैं कि, वो समय के हिसाब से पाला बदल लेते हैं. जैसे पिछले दिनों वह भाजपा के साथ थे लेकिन आजकल वह तीसरे मोर्चे एवं महागठबंधन की तरफ हाथ बढ़ाते दिख रहे हैं.

मायावती

भारत के टॉप-3 दलबदलू नेता जो सत्ता के हिसाब से बदल लेते हैं पार्टी
Source

मायावती को भी देश के दलबदलू नेताओं में से गिना जाता है. कांग्रेस के साथ मायावती के राजनीतिक संबंधों के बारे में तो आप जानते ही होंगे लेकिन वह भाजपा के साथ भी मिलकर उत्तर प्रदेश में सरकार चला चुकी हैं. उन्होंने पूरे देश को उस समय चौंका दिया जब उन्होंने अपने कट्टर दुश्मन मुलायम सिंह यादव की समाजवादी पार्टी से हाथ मिला लिया और उत्तर प्रदेश में गठबंधन करने जा रही हैं.

रामदेव के पास योगा सीखने गई थी महिला नेता, आश्रम में आ गया था एक युवक पर दिल